मौर्य साम्राज्य से सम्बंधित प्रश्न

Question. वह पुस्तक जिसमें पाटलिपुत्र नगर के प्रशासन का वर्णन मिलता है?

a-अर्थशास्त्र                                 b-इण्डिका

c-राजतरंगिणी                             d-पुराण

Answer. इण्डिका

Question. अशोक के अभिलेखों में उल्लेखित धर्म महामात्र का कार्य था।

a-बौद्ध धर्म का प्रचार करना

b-बौद्ध मठों की अध्यक्षता करना

c-धर्म को परिभाषित करना

d-नैतिक सिद्धान्तों का प्रचार करना

Answer. नैतिक सिद्धान्तों का प्रचार करना

Question. तृतीय बौद्ध संगीति कहाँ सम्पन्न हुई थी?

a-राजगृह                             b-वैशाली

c-कुण्डलव                          d-पाटलिपुत्र

Answer. पाटलिपुत्र

Question. मेगस्थनीज ने भारतीय लोगों के किस गुण की प्रशंसा की?

a-सार्वजनिक शिक्षा               b-मनोरंजन प्रिय

c-उच्च नैतिक स्त                  d-खेल-प्रिय

Question. प्रथम भारतीय साम्राज्य स्थापित किया गया था।

a-कनिष्क द्वारा                         b-हर्ष द्वारा

c-चन्द्रगुप्त मौर्य द्वारा                 d-समुद्रगुप्त द्वारा

Answer. चन्द्रगुप्त मौर्य द्वारा

Question. निम्नलिखित में से कौन सा सबसे पुराना राजवंश है?

a-गुप्त वंश                                 b-मौर्य वंश

c-वर्धन वंश                                d-कुषाण वंश

Answer. मौर्य वंश

Question. विशाखदत्त कृत मुद्राराक्षस में किस सम्राट का विस्तृत रूप से वर्णन मिलता है?

a-चन्द्रगुप्त मौर्य                           b-हर्ष

c-बिम्बसार                                d-समुद्र गुप्त

Answer. चन्द्रगुप्त मौर्य

Question. सैन्ड्रोकोट्स से चन्द्रगुप्त मौर्य की पहिचान किसने की?

a-विलियम जोंस                    b-वी. स्मिथ

c-आर. के. मुखर्जी                d- D. R. भंडारकर

Answer. विलियम जोंस

Question. कौटिल्य प्रधानमंत्री थे।

a-चन्द्रगुप्त विक्रमादित्य के         b-अशोक के

c-चन्द्रगुप्त मौर्य के                    d-राजा जनक के

Answer. चन्द्रगुप्त मौर्य के

Question. चाणक्य बचपन में किस नाम से जाने जाते थे?

a-अजय                                    b-चाणक्य

c-विष्णुगुप्त                               d-देवगुप्त

Answer. विष्णुगुप्त

Question. अशोक के बाद देवानांपिय की उपाधि का प्रयोग किसने किया?

a-कुणाल                                     b-तिस्स

c-सम्प्रति                                     d-दशरथ

Answer. दशरथ

Question. निम्नलिखित में से किसे सर्वश्रेष्ठ स्तूप माना जाता है?

a-अमरावती                                b-भरहुत

c-साँची                                      d-सारनाथ

Answer. साँची

Question. निम्नलिखित में किसकी तुलना मैक्यावेली के प्रिंस से की जाती है?

a-कालिदास का मालविकाग्निमित्रम

b-कौटिल्य का अर्थशास्त्र

c-वात्स्यायन का कामसूत्र

d-तिरुवल्लुवर का तिरुक्कुरल

Answer. कौटिल्य का अर्थशास्त्र

Question. पाटलिपुत्र में चन्द्रगुप्त का महल बना था।

Answer. लकड़ी का

Question. बुलंदीबाग प्राचीन स्थान था।

Answer. बुलन्दीबाग, पाटलिपुत्र का प्राचीन स्थान था।

Question. किस मौर्य सम्राट ने दक्षिण पर विजय प्राप्त की थी?

Answer. चन्द्रगुप्त मौर्य ने

Question. किस अभिलेख से स्पष्ट होता है कि चन्द्रगुप्त मौर्य के साम्राज्य में पश्चिम भारत भी शामिल था?

Answer. रुद्रदामन के जूनागढ़ अभिलेख से

Question. मौर्य काल की जल संसाधन व्यवस्था की जानकारी का मुख्य स्रोत है।

Answer. रुद्रदामन का गिरिनार अभिलेख

Question. अशोक के समकालीन मिस्र का राजा था?

Answer. टॉलमी द्वितीय फिलाडेल्फस

Question. अशोक की नीतियों एवं इसके व्यक्तित्व की जानकारी का मुख्य स्रोत है?

Answer. अशोक के अभिलेख

Question. मेगस्थनीज द्वारा लिखी गयी पुस्तक–

Answer. इण्डिका

Question. बिन्दुसार के शासनकाल में अशोक ने किस क्षेत्र के विद्रोह का दमन किया था?

Answer. तक्षशिला

Question. सारनाथ के धमेख स्तूप का निर्माण किसने करवाया था?

Answer. अशोक ने

Question. मौर्य काल की राजकीय मुद्रा थी।

Answer. पण

Question. मौर्य काल में संवाददाता को क्या कहा जाता था?

Answer. प्रतिवेदक

Question. किसने सहिष्णुता, उदारता और करुणा के आधार पर राजधर्म की स्थापना की?

Answer. अशोक ने

Question. अशोक द्वारा बौद्ध धर्म ग्रहण करने के बाद भी हिन्दू धर्म से आस्था नहीं छोड़ी इसका प्रमाणित होता है।

Answer. देवानांप्रिय की उपाधि

स्मरणीय तथ्य

मौर्य राजवंश 323 ईसा पूर्व से लेकर 184 ईसा पूर्व तक रहा।

मौर्य वंश की स्थापना चन्द्रगुप्त मौर्य ने की थी।

मुद्रा राक्षस में चन्द्रगुप्त को वृषल तथा कुलहीन बताया गया है।

जस्टिन ने चन्द्रगुप्त और सिकन्दर की भेंट का उल्लेख किया है।

कौटिल्य द्वारा रचित अर्थशास्त्र शासन के सिद्धान्तों की पुस्तक है।

अर्थशास्त्र में सप्तांग सिद्धान्त-राजा, अमात्य, जनपद, दुर्ग, कोष, दण्ड एवं मित्र की व्याख्या मिलती है।

जैन एवं तमिल साक्ष्य चन्द्रगुप्त की दक्षिण विजय की पुष्टि करते हैं।

चन्द्रगुप्त मौर्य ने सेल्यूकस को 305 ईसा पूर्व में परास्त किया था।

पुराणों में अशोक को अशोकवर्धन कहा गया है।

अशोक के शासनकाल में पाटलिपुत्र में तृतीय बौद्ध संगीति हुई।

दशरथ भी अशोक की तरह देवानांपिय की उपाधि धारण करता था।

अशोक के अभिलेखों में रज्जुक नामक अधिकारी का उल्लेख मिलता है। इसकी स्थिति आधुनिक जिलाधिकारी के समान थी, इसे राजस्व एवं न्याय दोनों क्षेत्रों में अधिकार प्राप्त थे।

मौर्य काल में व्यापारिक काफिलों (कारवां) को सार्थवाह कहा जाता था।

मौर्य कालीन सभी स्तम्भ चुनार से लाये गये बलुए पत्थर से निर्मित हैं।

अशोक की धम्म यात्राओं का क्रम इस प्रकार है- गया, कुशीनगर, लुम्बिनी, कपिलवस्तु, सारनाथ, श्रावस्ती।

अशोक के अधिकांश अभिलेख प्राकृत भाषा और ब्राह्मी लिपि में लिखे गये हैं। केवल दो अभिलेख शाहबाजगढ़ी तथा मानसेहरा खरोष्ठी लिपि में हैं।

अशोक के तेरहवें शिलालेख में कलिंग युद्ध का विवरण मिलता है।

कलिंग युद्ध अशोक के राज्याभिषेक के 8वें वर्ष 261 ईसा पूर्व में हुआ।

अशोक 12वें दीर्घ शिलालेख में सभी सम्प्रदायों के सार में वृद्धि की कामना की गई है।

अशोक के प्रथम शिलालेख में पशु बलि की निन्दा की गई है।

तक्षशिला मौर्य काल में शिक्षा का सर्वाधिक प्रसिद्ध केन्द्र था।

मेगस्थनीज ने मौर्य समाज को सात श्रेणियों में विभाजित किया था।

अशोक ने अपने शासनकाल में 25 बार बन्दियों को मुक्त किया।

अशोक ने अपने राज्याभिषेक के आठवें वर्ष से लेकर 10वें वर्ष के बीच बौद्ध धर्म ग्रहण किया।

अशोक ने राष्ट्रीय भाषा के रूप में पालि भाषा तथा राष्ट्रीय लिपि के रूप में ब्राह्मी लिपि को अपनाया।

साँची, सारनाथ और कौशाम्बी स्तम्भ लेखों में अशोक ने महामात्रों को संघ भेद रोकने की आज्ञा दी है।

अशोक के एर्रगुड़ी अभिलेख में ब्राह्मी लिपि दाएं से बायीं ओर लिखी गई है।

अशोक के महास्थान लेख से अन्न भण्डारण के विषय में जानकारी मिलती है।

संकिसा स्तम्भ के शीर्ष पर हाथी बना है।

रुग्मिन्देई का स्तम्भ सबसे छोटा है। (21 फुट), इसके शीर्ष पर घोड़ा बना है।

लेख युक्त रामपुरवा स्तम्भ के शीर्ष पर सिंह बना है जबकि लेख विहीन रामपुरवा स्तम्भ के शीर्ष पर वृषभ बना है।

सर्वप्रथम 1937 में अशोक के अभिलेखों को जेन्स प्रिंसेप ने पढ़ने में सफलता प्राप्त की।

सर्वप्रथम टीफेंथैलर ने 1750 ई. में अशोक के स्तम्भ का पता लगाया।

शार-ए-कुना (कन्धार) से प्राप्त अशोक के शिलालेख में दो लिपियों ग्रीक तथा आरमेइक का प्रयोग किया गया है।

भाब्रू शिलालेख बैराट पर्वत की चोटी पर स्थित एक शिलाखण्ड पर अंकित था। यहीं से अशोक के बौद्ध धर्म स्वीकार्य करने का उल्लेख मिलता है।

प्रवहण एक प्रकार का सामूहिक समारोह था।

रंगोपजीवी पुरुष कलाकर तथा रंगोपजीविनी स्त्री कलाकार को कहा जाता था।

मौर्य काल में अधिकारियों की धम्म प्रचार यात्रा को “अनुसन्धान” कहा जाता था।

पतंजलि के महाभाष्य से पता चलता है कि मौर्य काल में देवताओं की मूर्तियों को बेंचा जाता था।

गुर्जरा तथा मास्की अभिलेख में अशोक का नाम अशोक मिलता है।

मौर्य कालीन पुलिस को रक्षिन कहा जाता था।

मौर्य काल में दासों को पहली बार कृषि कार्य में संलग्न किया गया।

राज्य के मंत्रियों तथा पुरोहितों की नियुक्ति उपधा परीक्षण के बाद की जाती थी।

उपधा परीक्षण एक प्रकार का चारित्रिक परीक्षण था।